[पंजीकरण] यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना, लाभ | UP Bhagya Laxmi Yojana 2024 | UP Bhagya Lakshmi Yojana Hindi

UP Bhagya Laxmi Yojana : उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा लड़कियों के कल्याण के लिए एक बहुत ही शानदार योजना की शुरुआत कर दी गई है, जिसका नाम सरकार ने उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना रखा हुआ है। इस योजना के अंतर्गत बेटियो के पैदा होने पर तो बेटी और उनके माता को तो सरकार के द्वारा आर्थिक सहायता दी ही जाएगी, इसके अलावा विभिन्न क्लास में जब बेटी पढ़ने के लिए प्रवेश करेगी तो भी आर्थिक सहायता मिलेगी। साथ ही जब लड़की 21 साल की उम्र को पूरा कर लेगी तो भी सरकार के द्वारा शादी विवाह के लिए निश्चित मात्रा में आर्थिक सहायता दी जाएगी। इस प्रकार से उत्तर प्रदेश की बेटियों के कल्याण के लिए यह योजना बहुत ही कमाल की साबित होने वाली है। आइए इस आर्टिकल में विस्तार से जानते हैं कि “उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना क्या है” और “उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना में आवेदन कैसे करें।”

 

यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना (UP Bhagya laxmi Yojana 2024)

योजना का नाम यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना
वर्ष 2024
राज्य उत्तर प्रदेश
किसने शुरू की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
लाभार्थी उत्तर प्रदेश की बेटियां
उद्देश्य आर्थिक सहायता देना
ऑफिसियल वेबसाइट mahilakalyan.up.nic.in/
हेल्पलाइन नंबर 1090, 1098

 

UP Bhagya Laxmi Yojana 2024

उत्तर प्रदेश में बीपीएल एवं गरीब परिवारों में लड़कियों के जन्म को बढ़ावा देने के लिए भाग्य लक्ष्मी योजना को शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से परिवार और समाज में बालिकाओं की स्थिति को सुधारने के लिए आर्थिक सहायता देकर उनके माता-पिता को मदद प्रदान की जाएगी। ताकि परिवार पर बेटी का ज्यादा बोझ न पड़े। जिससे भ्रूण हत्या जैसे सामाजिक बुराइयों को जड़ से खत्म किया जा सके। भाग्य लक्ष्मी योजना के माध्यम से गरीब परिवारों की बेटियों को 2 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी जिससे बालिकाएं अपनी पढ़ाई और भविष्य में अपने लक्ष्य को आसानी से प्राप्त कर सकेंगी।

UP Bhagya Lakshmi Yojana का लाभ 31 मार्च 2006 के बाद बीपीएल परिवार में पैदा होने वाली सभी बच्चियों ले सकती है।  लेकिन उनकी शादी 18 साल से कम उम्र में नहीं होनी चाहिए।  भाग्य लक्ष्मी योजना का लाभ एक परिवार की दो बेटियां उठा सकती है। इस योजना का लक्ष्य लड़कियों को प्रत्येक क्षेत्र में आगे बढ़ाने के साथ बेहतर अवसर प्रदान करना है। ताकि महिलाओं व बेटियों के प्रति समाज में पहली मानसिकता को बदला जा सके।

 

उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना क्या है? (What is UP Bhagya Lakshmi Yojana)

भाग्यलक्ष्मी योजना का शुभारंभ उत्तर प्रदेश के वर्तमान चीफ मिनिस्टर योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा खासतौर पर उत्तर प्रदेश की लड़कियों के लिए किया गया है। योजना के अंतर्गत लड़कियों के माता-पिता को लड़कियों के हिस्से का पैसा प्राप्त होगा। जब कोई लड़की क्लास 6 में आ जाएगी तो उस लड़की के माता-पिता को सरकार के द्वारा ₹3000 दिए जाएंगे। जब लड़की आठवीं क्लास में आएगी तो ₹5000 दिए जाएंगे और दसवीं क्लास में आने पर ₹7000 तथा जब लड़की 12वीं क्लास में आ जाएगी तो ₹8000 की आर्थिक सहायता दी जाएगी, वही जब लड़की की उम्र 21 साल हो जाएगी तो लड़की के माता-पिता को सरकार के द्वारा ₹200000 की भी सहायता दी जाएगी। इस योजना के अंतर्गत आर्थिक सहायता पाने के लिए लाभार्थी व्यक्ति के पास अपना खुद का बैंक अकाउंट होना चाहिए, क्योंकि सरकार के द्वारा योजना के तहत पैसा देने के लिए डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर सिस्टम का इस्तेमाल किया जाएगा, ताकि योजना के पैसे में किसी भी प्रकार का गबन बीच में कोई भी व्यक्ति ना कर सके और लाभार्थियों को योजना का पूरा पैसा हासिल हो।

 

UP Bhagya laxmi Yojana

 

किसके लिए है भाग्य लक्ष्मी योजना?

यूपी सरकार की यह स्कीम BPL (Below Poverty Line) यानी गरीबी रेखा से नीचे वाले परिवारों की खातिर है। इसका मकसद बेटियों की पैदाइश को बढ़ावा देना है। साथ ही, परिवार की आर्थिक मदद करना भी है, ताकि परिवार पर ज्यादा आर्थिक बोझ ना पड़े। इसके जरिए सरकार भ्रूण हत्या जैसी सामाजिक बुराई को जड़ से खत्म करना चाहती है।

 

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना का उद्देश्य (Objective)

देश और उत्तर प्रदेश में ऐसे कई लोग हैं, जो बेटी पैदा होते ही मुंह फुला कर बैठ जाते हैं क्योंकि उनका ऐसा सोचना है कि बेटियां किसी काम की नहीं होती है और बेटी पैदा होने से उनके ऊपर उसकी शादी का बोझ आ जाता है। सरकार के द्वारा ऐसे लोगों की सोच में बदलाव लाने के लिए और बेटियों को भी जीवन में आगे बढ़ाने के लिए कई योजना चलाई जा रही हैं। यूपी भाग लक्ष्मी योजना भी ऐसी ही योजना है। इसके तहत सरकार के द्वारा बेटियों के हिस्से का पैसा उनके माता-पिता को दिया जाएगा, ताकि वह उस पैसे का इस्तेमाल बेटियों की अच्छी पढ़ाई लिखाई के लिए कर सकें। यही नहीं सरकार के द्वारा योजना के अंतर्गत यह प्रावधान भी किया गया है कि जब बेटियां 21 साल की हो जाएगी तो ₹200000 दिए जाएंगे, ताकि उनके शादी विवाह में भी किसी प्रकार की दिक्कत ना आए। इस प्रकार से बेटियों को पढ़ाई कराने का उद्देश्य और उनकी शादी करने का उद्देश्य भी योजना में सरकार ने शामिल किया हुआ है।

यूपी वृद्धा पेंशन योजना

सीएम भाग्यलक्ष्मी योजना के लाभ/विशेषताएं (Benefits and Features)

  • भाग्यलक्ष्मी योजना उत्तर प्रदेश राज्य में चल रही है जिसकी शुरुआत मुख्यमंत्री योगी जी के द्वारा की गई है।
  • योजना के अंतर्गत मुख्य लाभार्थी उत्तर प्रदेश की स्थाई लड़कियां होंगी।
  • योजना के तहत बेटी के पैदा होने पर उसके अकाउंट में ₹50,000 दे दिए जाएंगे साथ ही उसकी माता को भी सरकार के द्वारा ₹5,100 की आर्थिक सहायता दी जाएगी।
  • 21 साल की उम्र को पूरा करने के पश्चात बेटियों को ₹2,00,000 की सहायता दी जाएगी।
  • योजना के अंतर्गत एक परिवार की अधिक से अधिक दो बेटियों को ही योजना का फायदा प्राप्त हो सकेगा।
  • योजना की वजह से बेटियां अच्छी शिक्षा प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित होंगी।

 

भाग्यलक्ष्मी योजना 2024 में मिलने वाले फायदे

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा भाग्य लक्ष्मी योजना के तहत बेटी के जन्म के समय 50,000 रुपए दिया जाएगा। जो मेच्योर होकर 21 साल की उम्र में 2 लाख रुपए हो जाएंगे। मां को बेटी के जन्म के समय 5,100 की आर्थिक सहायता राशि दी जाएगी। जिससे मां अपनी बच्ची को अच्छे से पालन पोषण कर सकेगी। इसके अलावा सरकार द्वारा बेटी की पढ़ाई के लिए 23,000 रुपए की मदद की जाएगी। यह आर्थिक सहायता अलग-अलग किस्तों में दी जाएगी। जोकि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में भेजी जाएगी।  जिसमें बेटी के छठी क्लास में पहुंचने पर 3,000 रुपए आठवीं में पहुंचने पर 5,000 रुपए, दसवीं में पहुंचने पर 7,000 रुपए और 12वीं में पहुंचने पर 8,000 मिलेंगे।

 

यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना हेतु पात्रता (Eligibility)

  • वह लड़कियां योजना के लिए पात्र होंगी, जो उत्तर प्रदेश की परमानेंट निवासी होगी और जिनके परिवार की सालाना इनकम ₹200000 से कम होगी।
  • एक परिवार की अधिक से अधिक दो लड़कियों को ही योजना का फायदा प्राप्त हो सकेगा।
  • अगर लड़की की शादी 18 साल से कम उम्र में हो जाती है तो उसे योजना का फायदा नहीं मिलेगा।
  • बेटी पैदा होने के 1 साल के अंदर ही जन्म प्रमाण पत्र जमा करने के पश्चात योजना में आवेदन करना आवश्यक है।
  • साल 2006 में 31 मार्च के पश्चात गरीबी रेखा से नीचे आने वाले सभी परिवारों की बेटियां योजना के लिए पात्र होंगी।

 

उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना हेतु दस्तावेज (Documents)

  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बालिका का जन्म प्रमाण पत्र
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • माता पिता का आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर

 

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना में आवेदन की प्रक्रिया (Registration)

  • उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना में आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको यूपी के महिला एवं बाल विकास डिपार्टमेंट की ऑफिशियल वेबसाइट को ओपन करना है और वेबसाइट के होम पेज पर चले जाना है। वेबसाइट का लिंक इसी आर्टिकल में दिया गया है।
  • वेबसाइट के होम पेज पर पहुंच जाने के पश्चात आपको यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना के एप्लीकेशन फॉर्म को पीडीएफ फॉर्मेट में डाउनलोड करने वाला ऑप्शन मिलेगा, आपको इसी एप्लीकेशन फॉर्म को पीडीएफ फॉर्मेट में डाउनलोड कर लेना है और उसके पश्चात पीडीएफ फॉर्म का प्रिंट आउट निकाल लेना है।
  • प्रिंट आउट निकालने के पश्चात आपको प्रिंटआउट में जो भी जानकारियां भरने के लिए कहा जा रहा है आपको उन सभी जानकारियों को यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना एप्लीकेशन फॉर्म के अंदर निश्चित जगह में दर्ज कर देना है।
  • सभी जानकारियों को भरने के पश्चात आपको निश्चित जगह में लड़की की फोटो को भी चिपका देना है।
  • अब आपको आवश्यक दस्तावेज की फोटोकॉपी को इसी एप्लीकेशन फॉर्म के साथ अटैच कर देना है।
  • इसके बाद आपको तैयार एप्लीकेशन फॉर्म को ले जाकर के नजदीकी आंगनवाड़ी सेंटर अथवा महिलाकल्याण डिपार्टमेंट के ऑफिस में जमा कर देना है।
  • इस प्रकार से उपरोक्त प्रक्रिया का पालन करके आप उत्तर प्रदेश चीफ मिनिस्टर भाग्यलक्ष्मी योजना में आवेदन कर सकेंगे।

 

उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना का स्टेटस देखने की प्रक्रिया

यदि आपने यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना हेतु आवेदन किया है तथा आप यह जानना चाहते हैं कि आपके द्वारा किए गए आवेदन की स्थिति क्या है? तब आप अपने आवेदन की स्थिति उस केंद्र से प्राप्त कर सकते हैं जहां से आपने अपने फॉर्म को जमा किया था। इसके अतिरिक्त आप इस योजना हेतु दिए गए हेल्पलाइन नंबर के माध्यम से भी आप अपने आवेदन संबंधी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

 

उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना हेल्पलाइन नंबर (Helpline Number)

उपरोक्त आर्टिकल में हमने आपको उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना क्या है और उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना में आप कैसे आवेदन कर सकते हैं तथा इस योजना के अंतर्गत आपको कौन-कौन से फायदे मिल सकते हैं इसकी जानकारी विस्तार से प्रदान की। इसके बावजूद अगर आपको योजना के बारे में अन्य कोई भी जानकारी हासिल करनी है या फिर आप योजना से संबंधित किसी भी प्रकार की शिकायत को दर्ज करना चाहते हैं तो नीचे आपको महिला हेल्पलाइन नंबर और चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर भी दिया जा रहा है, जिस पर आप संपर्क कर सकते हैं।

महिला हेल्पलाइन 1090
चाइल्ड हेल्पलाइन 1098

 

Leave a Comment

Post Office RD Scheme 2024: गजब की है यह स्कीम, हर महीने निवेश पर मिलेगा शानदार रिटर्न गाय गोठा अनुदान महाराष्ट्र 2024: Gay Gotha Yojana Form, लाभ एवं पात्रता महिलाओं के लिए गारंटी रहित 25 लाख तक का ऋण, जानिए क्या है आवेदन प्रक्रिया झारखण्ड अबुआ आवास योजना किसानों को anaajkharid.in पोर्टल पर पंजीकरण करना है जरुरी, वरना नहीं मिलेगा लाभ