Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana 2024 : यूपी स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना ऑनलाइन आवेदन, पात्रता

Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana : उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा युवाओं को डिजिटल शिक्षा से जोड़ने और उनकी शिक्षा में होने वाली समस्याओं को दूर करने के लिए स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से राज्य के उच्च शिक्षण संस्थानों में अध्ययन कर रहे मेधावी छात्र छात्राओं को निशुल्क स्मार्टफोन और टेबलेट वितरित किए जाएंगे। इस योजना को पूरे राज्य में यूपी डीजी शक्ति योजना के अंतर्गत संचालित किया जाएगा। जिसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में कैबिनेट बैठक में 3600 करोड़ रुपए की धनराशि को मंजूरी दी गई है। इस योजना का संचालन 5 साल तक किया जाएगा।

अगर आप भी उत्तर प्रदेश के युवा छात्र हैं और जानना चाहते हैं कि कौन-कौन से छात्राओं को स्मार्टफोन या टैबलेट दिए जाएंगे। तो आपको यह आर्टिकल विस्तार पूर्वक अंत तक पढ़ना होगा। क्योंकि आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana से संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएंगे।

 

Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana 2024

योजना का नाम स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना
संबंधित विभाग समाज कल्याण विभाग
राज्य उत्तर प्रदेश
किसने शुरू की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने
लाभार्थी राज्य के युवा छात्र-छात्राएं
उद्देश्य मुफ्त स्मार्टफोन तथा टैबलेट प्रदान कर शिक्षा में हो रही रूकावटों को दूर करना

 

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना को शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से राज्य के मेधावी छात्र छात्राओं को निशुल्क स्मार्टफोन और टैबलेट वितरित किए जाएंगे। इस योजना का लाभ स्नातक, स्नातकोत्तर, तकनीकी, डिप्लोमा, कौशल विकास, पैरामेडिकल नर्सिंग आदि के विद्यार्थियों को दिया जाएगा। स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना के तहत अगले 5 वर्ष तक उच्च शिक्षण संस्थानों में अध्ययन कर रहे छात्रों को मुफ्त स्मार्टफोन डिवाइस का लाभ पहुंचाया जाएगा। यूपी सरकार द्वारा अप्रैल में 10 लाख टैबलेट और 25 लाख स्मार्टफोन खरीदने के लिए टेंडर जारी किए गए थे और एसर, लावा और सैमसंग कंपनियों के साथ सहमति प्राप्त की थी। इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए सरकार द्वारा 3600 करोड़ रुपए की धनराशि को मंजूरी प्रदान की गई है।

Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana

 

Swami Vivekananda Youth Empowerment Scheme का उद्देश्य

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के युवाओं को डिजिटल शिक्षा से जोड़ने हेतु निश्चित स्मार्टफोन या टेबलेट वितरित करना है ताकि युवाओं को तकनीकी रूप से सशक्त बनाया जा सके और उनमें कौशल विकास को बढ़ावा देकर रोजगार के अवसर प्रदान किए जा सके। इस योजना के माध्यम से युवाओं को फ्री स्मार्टफोन या टैबलेट मिलने से वह अपनी आगे की पढ़ाई ऑनलाइन कर सकेंगे। इसके अलावा छात्रों को पढ़ाई में होने वाली रूकावटों को दूर किया जा सकेगा जिससे बिना किसी समस्या के छात्र अपनी पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित कर सकेंगे।

 

25 लाख युवाओं को मिलेंगे मुफ्त स्मार्टफोन

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana के तहत युवाओं को मुफ्त स्मार्टफोन या टैबलेट मुहैया कराए जाएंगे। इस योजना के माध्यम से राज्य के युवाओं को तकनीकी रूप से सशक्त बनने के लिए यूपी सरकार द्वारा वित्तीय वर्ष 2023-24 में 25 लाख युवाओं को फ्री स्मार्टफोन या टैबलेट वितरित किए जाएंगे। इसके दिए योगी सरकार द्वारा कैबिनेट बैठक में 3600 करोड़ रुपए के बजट की स्वीकृति प्रदान की गई है। राज्य सरकार द्वारा यह धनराशि स्मार्टफोन टैबलेट डिवाइस का वितरण करने के लिए खर्च की जाएगी। जिसके माध्यम से 25 लाख युवा छात्रों को लाभ मिलेगा। GEM पोर्टल के माध्यम से स्मार्टफोन की पूर्ति के लिए चार कंपनियों का चयन किया गया है। प्रथम चरण में सैमसंग और लावा के 3.75 लाख स्मार्टफोन वितरण किए जाएंगे।

 

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश के युवाओं को डिजिटल शिक्षा का अवसर उपलब्ध कराने के लिए Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana को शुरू किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य के उच्च शिक्षा संस्थानों में अध्यनरत 35 लाख छात्राओं को निशुल्क स्मार्टफोन या टैबलेट वितरित किए जाएंगे।
  • युवा स्मार्टफोन या टैबलेट का लाभ प्राप्त कर तकनीकी रूप से सशक्त होंगे। जिससे उन्हें रोजगार के अवसर प्राप्त करने में भी सहायता मिलेगी।
  • उत्तर प्रदेश डेवलपमेंट सिस्टम कारपोरेशन लिमिटेड इस योजना की नोएडा एजेंसी है।
  • इस योजना के पहले चरण में 1 करोड़ छात्रों को टैबलेट या स्मार्टफोन देने का लक्ष्य रखा गया है।
  • Swami Vivekananda Youth Empowerment Scheme के तहत सैमसंग और लावा के स्मार्टफोन और सैमसंग, लावा और एसर के टैबलेट दिए जाएंगे।
  • सरकार द्वारा इस योजना में डिजिटल एक्सेस की सुविधा भी प्रदान की जाएगी।
  • छात्रों को वितरित किए जा रहे टैबलेट स्मार्टफोन के माध्यम से विभिन्न विभागों की विकासशील योजनाओं से अवगत कराया जाएगा तथा नवीनतम अपडेट के साथ नई जानकारी भी समय-समय पर साझा की जाएगी।
  • राज्य के सभी वर्ग जाति धर्म के युवा छात्रों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा।
  • स्मार्टफोन या टैबलेट प्राप्त करने के लिए छात्रों को कोई शुल्क नहीं देना होगा।
  • इस योजना के माध्यम से युवाओं को डिजिटल शिक्षा से जोड़ने और ऑनलाइन पाठ्यक्रम और अन्य शैक्षिक सामग्री तक पहुंच आसान हो सकेगी।
  • डिजिटल प्रक्रिया के माध्यम से छात्र शिक्षा संबंधी अपनी सारी मुश्किलों को हल कर सकेंगे और तकनीकी रूप से सशक्त एवं आत्मनिर्भर हो सकेंगे।

 

योजना के विभिन्न कार्यक्रम

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना के तहत विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम और गतिविधियाँ आयोजित की जाती हैं, जो युवाओं के समग्र विकास में सहायक होते हैं। इनमें से कुछ प्रमुख कार्यक्रम निम्नलिखित हैं:

  • कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम: इस कार्यक्रम के तहत युवाओं को आईटी, तकनीकी, कृषि, हस्तशिल्प, और अन्य क्षेत्रों में प्रशिक्षण दिया जाता है। इसका उद्देश्य युवाओं को उन कौशलों में प्रशिक्षित करना है जो वर्तमान समय में रोजगार के लिए आवश्यक हैं। इस प्रशिक्षण के माध्यम से युवा विभिन्न प्रकार के तकनीकी और गैर-तकनीकी कार्यों के लिए तैयार होते हैं।
  • स्वरोजगार सहायता कार्यक्रम: इस कार्यक्रम के तहत युवाओं को अपना व्यवसाय शुरू करने के लिए वित्तीय सहायता और मार्गदर्शन प्रदान किया जाता है। सरकार विभिन्न योजनाओं के माध्यम से युवाओं को लोन, सब्सिडी और अन्य वित्तीय सहायता प्रदान करती है ताकि वे अपना व्यवसाय शुरू कर सकें और आत्मनिर्भर बन सकें।
  • शैक्षिक और व्यावसायिक परामर्श: युवाओं को उनके शैक्षिक और व्यावसायिक लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद करने के लिए परामर्श सेवाएँ प्रदान की जाती हैं। विशेषज्ञों द्वारा विद्यार्थियों को उनके करियर विकल्पों, शिक्षा के अवसरों और व्यावसायिक संभावनाओं के बारे में मार्गदर्शन दिया जाता है।
  • स्पोर्ट्स और फिटनेस कार्यक्रम: युवाओं को शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रखने के लिए विभिन्न प्रकार के खेल और फिटनेस गतिविधियाँ आयोजित की जाती हैं। इस कार्यक्रम के तहत युवाओं को विभिन्न खेलों में भाग लेने के अवसर प्रदान किए जाते हैं और उन्हें फिटनेस के महत्व के बारे में जागरूक किया जाता है।
  • नवाचार और स्टार्टअप प्रोत्साहन: इस कार्यक्रम के तहत युवाओं को नवाचार और स्टार्टअप्स के क्षेत्र में प्रोत्साहित किया जाता है। सरकार विभिन्न योजनाओं के माध्यम से युवाओं को नवाचार और स्टार्टअप्स के लिए वित्तीय सहायता और मार्गदर्शन प्रदान करती है। इसके लिए विशेष रूप से डिज़ाइन किए गए प्रशिक्षण कार्यक्रम और इन्क्यूबेशन सेंटर भी स्थापित किए गए हैं।

 

योजना का प्रभाव

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना ने उत्तर प्रदेश के युवाओं के जीवन पर सकारात्मक प्रभाव डाला है। इस योजना के माध्यम से कई युवाओं को रोजगार प्राप्त हुआ है और कई ने अपना व्यवसाय शुरू किया है। इसके अलावा, शैक्षिक और व्यावसायिक परामर्श सेवाओं ने युवाओं को उनके करियर के लिए सही दिशा चुनने में मदद की है।

 

चुनौतियाँ और संभावनाएँ

हालांकि स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना ने कई सकारात्मक परिणाम दिए हैं, लेकिन इसके समक्ष कुछ चुनौतियाँ भी हैं।

  • बजट और वित्तीय संसाधन: योजना को प्रभावी रूप से लागू करने के लिए पर्याप्त बजट और वित्तीय संसाधनों की आवश्यकता होती है।
  • प्रशिक्षण केंद्रों की संख्या और गुणवत्ता: योजना के तहत पर्याप्त संख्या में प्रशिक्षण केंद्र स्थापित करना और उनकी गुणवत्ता को बनाए रखना एक चुनौती है।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंच: योजना के लाभों को राज्य के सभी हिस्सों, विशेष रूप से ग्रामीण और दूरदराज के क्षेत्रों में पहुंचाना एक महत्वपूर्ण चुनौती है।

इन चुनौतियों के बावजूद, स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना में संभावनाएँ भी अपार हैं। यदि योजना को सही ढंग से लागू किया जाए और इसके लिए आवश्यक संसाधनों का उचित प्रबंधन किया जाए, तो यह योजना उत्तर प्रदेश के युवाओं के जीवन में क्रांतिकारी बदलाव ला सकती है।

Uttar Pradesh Saur Urja Yojana

Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana के लिए पात्रता

  • स्वामी विवेकानंद युवा शिक्षक कल्याण योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए उत्तर प्रदेश के मूल निवासी पात्र होंगे।
  • इस योजना के तहत राज्य के छात्र एवं छात्राएं दोनों आवेदन करने के लिए पात्र होंगे।
  • छात्र स्नातक, स्नातकोत्तर, तकनीकी शिक्षा, स्वास्थ्य शिक्षा, कौशल विकास, प्रशिक्षण एवं डिप्लोमा में अध्यनरत होना चाहिए।
  • आवेदक छात्र के परिवार की वार्षिक आय 2 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • पहले किसी स्मार्टफोन या टैबलेट योजना का लाभ प्राप्त कर चुके छात्र इस योजना के लिए पात्र नहीं होंगे।

 

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • शैक्षणिक योग्यता संबंधी दस्तावेज
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

 

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना के तहत आवेदन कैसे करें?

अगर आप उत्तर प्रदेश के छात्र है और स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो आपको किसी भी प्रकार का कोई आवेदन करने की आवश्यकता नहीं होगी। क्योंकि यह जिम्मेदारी आपके उच्च शैक्षणिक संस्थानों और कॉलेजों की होगी। छात्रों को स्मार्टफोन पाने के लिए किसी भी तरह कोई शुल्क नहीं देना होगा यह पूरी तरह से मुफ्त है। उच्च शैक्षिक संस्थान अपने छात्रों की जानकारी आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड करेंगे। इसके बाद सरकार द्वारा शिक्षा संस्थान में पढ़ रहे युवाओं को स्मार्टफोन और टैबलेट वितरित किए जाएंगे। जिसकी सूचना छात्रों को एसएमएस के माध्यम से दे दी जाएगी।

 

निष्कर्ष

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना उत्तर प्रदेश सरकार की एक महत्वपूर्ण पहल है, जिसका उद्देश्य राज्य के युवाओं को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाना है। इस योजना के माध्यम से युवाओं को विभिन्न प्रकार के कौशलों में प्रशिक्षित किया जाता है, स्वरोजगार के अवसर प्रदान किए जाते हैं, और उन्हें शैक्षिक और व्यावसायिक परामर्श दिया जाता है।

इस योजना ने अब तक कई युवाओं के जीवन को सकारात्मक रूप से प्रभावित किया है और उन्हें आत्मनिर्भर बनने में मदद की है। हालांकि, इस योजना को और अधिक प्रभावी बनाने के लिए कुछ चुनौतियों का समाधान करना आवश्यक है।

स्वामी विवेकानंद के विचारों और सिद्धांतों पर आधारित इस योजना का मुख्य उद्देश्य युवाओं में आत्मविश्वास बढ़ाना, रोजगार के अवसर प्रदान करना और उन्हें समाज के सक्रिय सदस्य के रूप में स्थापित करना है। उत्तर प्रदेश सरकार इस योजना के माध्यम से राज्य के युवाओं के विकास और सशक्तिकरण की दिशा में महत्वपूर्ण कदम उठा रही है, जो आने वाले समय में राज्य के समग्र विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

 

Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana FAQs

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना को किस राज्य में शुरू किया गया है?

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना को  उत्तर प्रदेश राज्य में शुरू किया गया है।

 

Swami Vivekananda Youth Empowerment Scheme क्या है?

Swami Vivekananda Youth Empowerment Scheme  के माध्यम से उत्तर प्रदेश के युवा छात्र-छात्राओं को स्मार्टफोन और टैबलेट मुफ्त में मुहैया कराए जाएंगे। ताकि युवाओं को तकनीकी शिक्षा से जोड़ा जा सके।

 

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना का लाभ किसे मिलेगा?

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना का लाभ राज्य के स्नातक, स्नातकोत्तर, डिप्लोमा, तकनीकी शिक्षा, स्वास्थ्य शिक्षा, कौशल विकास प्रशिक्षण एवं आईटीआई की पढ़ाई कर रहे युवा छात्रों को मिलेगा।

 

Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana के लिए कितने रुपए का बजट निर्धारित किया गया है?

Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में 3600 करोड़ का बजट निर्धारित किया गया है।

Leave a Comment

राजस्थान मुख्यमंत्री विशेष योग्यजन सम्मान पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कैसे करें बिहार सामूहिक नलकूप योजना : खेत में सामूहिक नलकूप लगवाने पर भारी सब्सिडी देगी बिहार सरकार, ऐसे करें आवेदन Post Office RD Scheme 2024: गजब की है यह स्कीम, हर महीने निवेश पर मिलेगा शानदार रिटर्न गाय गोठा अनुदान महाराष्ट्र 2024: Gay Gotha Yojana Form, लाभ एवं पात्रता महिलाओं के लिए गारंटी रहित 25 लाख तक का ऋण, जानिए क्या है आवेदन प्रक्रिया