Mukhyamantri Rajshri Yojana 2024 : बेटियों को 50000 रुपये का फायदा, ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म, पात्रता व दिशा निर्देश

Mukhyamantri Rajshri Yojana 2024 : सरकार द्वारा बेटियों का उत्थान करने के लिए निरंतर प्रयास किया जाता है। जिसके लिए सरकार विभिन्न प्रकार की योजनाओं का संचालन करती है। हाल ही में राजस्थान सरकार ने मुख्यमंत्री राजश्री योजना का शुभारंभ किया है। इस योजना के माध्यम से समाज में बालिकाओं के प्रति सकारात्मक सोच को विकसित करने का प्रयास किया जाएगा।

बालिकाओं के जन्म को लेकर के राजस्थान सरकार ने राजस्थान के सभी माता-पिता को खुशखबरी देने के लिए बहुत ही शानदार योजना को शुरू कर दिया है। Mukhyamantri Rajshri Yojana के माध्यम से सरकार के द्वारा कहा गया है कि, वह बेटी पैदा होने पर आर्थिक सहायता देगी। यह आर्थिक सहायता अलग-अलग किस्तों में बालिका के माता-पिता को या बालिका को दी जाएगी।

इस प्रकार से यदि आप भी राजस्थान राज्य में निवास करते हैं और आपकी बेटी है या फिर हाल ही में आपकी बेटी पैदा हुई है, तो आपको राजस्थान राजश्री योजना के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करनी चाहिए। हम यहां इस आर्टिकल में आपको जानकारी देंगे की “राजस्थान राजश्री योजना क्या है” और “राजस्थान राजश्री योजना में आवेदन कैसे करें।”

Mukhyamantri Rajshri Yojana (मुख्यमंत्री राजश्री योजना 2024)

योजना का नाम मुख्यमंत्री राजश्री योजना
राज्य राजस्थान
किसने शुरू की राजस्थान के मुख्यमंत्री ने
लाभार्थी राजस्थान में पैदा होने वाली बालिकाएं
साल 2023
उद्देश्य बालिकाओं के जन्म को प्रोत्साहित करना
आधिकारिक वेबसाइट https://wcd.rajasthan.gov.in/we/#/scheme/detail/261
हेल्पलाइन नंबर 18001806127

 

राजस्थान के तत्कालीन मुख्यमंत्री जी के द्वारा बेटियों के कल्याण के लिए राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना की वजह से अब बेटियों को कोई बोझ नहीं समझेगा। बताना चाहते हैं कि, राजश्री योजना राजस्थान के माध्यम से बेटी के पैदा होने से लेकर के उसके द्वारा 12वीं की पढ़ाई करने तक तकरीबन ₹50000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यह आर्थिक सहायता 6 किस्तों में बालिकाओं को प्रदान की जाएगी।

यह योजना बालिकाओं का समग्र विकास करने में कारगर साबित होगी। इसके अलावा Mukhyamantri Rajshri Yojana के माध्यम से आर्थिक सहायता बालिका के विभिन्न कक्षाओं में प्रवेश लेने पर भी प्रदान की जाएगी। जिससे कि प्रदेश के नागरिक बालिकाओं को शिक्षित करने के लिए प्रोत्साहित होंगे। यह योजना बालिकाओं को समाज में समानता का अधिकार भी प्रदान करेगी।

इस योजना का फायदा सिर्फ राजस्थान की स्थाई बेटियों को ही मिलेगा। योजना का फायदा पाने के लिए योजना में पंजीकरण करवाने की आवश्यकता होगी। हालांकि अभी ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा उपलब्ध नहीं है। इसलिए योजना में ऑफलाइन पंजीकरण करवाना होगा।

राजस्थान फ्री मोबाइल योजना

Mukhyamantri Rajshri Yojana Objectives (राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना का उद्देश्य)

मुख्यमंत्री राजश्री योजना का मुख्य उद्देश्य समाज में बालिकाओं के प्रति सकारात्मक सोच विकसित करना है। जिससे कि बालिकाओं का समग्र विकास सुनिश्चित किया जा सके। इसके अलावा इस योजना के माध्यम से बालिकाओं के लालन-पालन, शिक्षण व स्वास्थ्य के मामले में होने वाले लिंक भेद को रोकने एवं बालिकाओं को बेहतर शिक्षा व स्वास्थ्य भी सुनिश्चित किया जाएगा। यह योजना संस्थागत प्रवास को बढ़ावा देकर मातृ मृत्यु दर में भी कमी लाने में कारगर साबित होगी।

इसके अलावा इस योजना के माध्यम से बालिका शिशु मृत्यु दर में कमी आएगी एवं लिंगानुपात में सुधार आएगा। मुख्यमंत्री राजश्री योजना बालिका के विद्यालयों में नामांकन एवं ठहराव भी सुनिश्चित करेंगी एवं बालिकाओं को समाज में समानता का अधिकार प्रदान करेगी।

Mukhyamantri Rajshri Yojana 2023

जैसा कि आप जानते हैं कि, देश में अभी भी ऐसे कई राज्य और कई जिले हैं, जहां पर बेटियों को लेकर के लोगों की सोच अच्छी नहीं है। लोगों को लगता है कि, बेटियां उनके ऊपर बोझ होती है, परंतु पिछले कुछ सालों से अलग-अलग क्षेत्र में बेटियां भी सफलता के परचम लहरा रही हैं। यही वजह है कि, कुछ लोगों की सोच में बदलाव आ गया है और कुछ लोगों की सोच में बदलाव लाने के लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है।

इसी प्रकार से राजस्थान गवर्नमेंट ने भी राजश्री योजना का शुभारंभ इस उद्देश्य के साथ किया हुआ है, ताकि बेटियों के जन्म को प्रोत्साहित किया जा सके और उन्हें समाज में शिक्षित और सशक्त बनाया जा सके।

 

राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लाभ/विशेषताएं (Mukhyamantri Rajshri Yojana Features/ Benefits)

  • राजश्री योजना का शुभारंभ राजस्थान के मुख्यमंत्री के द्वारा किया गया है।
  • सिर्फ राजस्थान की मूल निवासी बालिकाओं को ही इस योजना का फायदा सरकार के द्वारा दिया जाएगा।
  • योजना के अंतर्गत सरकार के द्वारा जो आर्थिक सहायता दी जाएगी वह अलग-अलग किस्तों में दी जाएगी।
  • योजना के अंतर्गत बेटी के पैदा होने पर ₹2500 प्राप्त होंगे और 1 साल का टीकाकरण होने पर ₹2500 मिलेंगे।
  • अगर बेटी राजकीय विद्यालय की पहली क्लास में एडमिशन लेती है तो ₹4000 मिलेंगे और वह अगर राजकीय स्कूल की कक्षा 6 में एडमिशन लेती है तो ₹5000 मिलेंगे।
  • बेटी जब राजकीय स्कूल की दसवीं क्लास में एडमिशन लेगी, तो ₹11000 मिलेंगे और राजकीय विद्यालय के 12वीं क्लास में जब वह एडमिशन लेगी, तो ₹25000 प्राप्त होंगे।
  • इस प्रकार से योजना के अंतर्गत ₹50000 की रकम टोटल 6 किस्तों में बेटी को प्राप्त हो सकेगी।
  • योजना की पहली दो किस्त उन सभी लड़कियों को मिलेगी, जिनकी पैदाइश किसी गवर्नमेंट हॉस्पिटल और जननी सुरक्षा योजना के साथ जो प्राइवेट हॉस्पिटल पंजीकृत है, उसमें हुई होगी।
  • पढ़ाई के लिए बालिका को अगली किस्त तभी प्राप्त होगी जब वह किसी स्टेट गवर्नमेंट के द्वारा संचालित एजुकेशन इंस्टिट्यूट में एडमिशन प्राप्त करेगी।
  • अगर किसी माता-पिता की जो तीसरी संतान है वह भी बेटी पैदा होती है तो शुरुआत की जो दो किस्त है वह माता-पिता को प्राप्त होगी।
  • राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना हेतु पात्रता (Mukhyamantri Rajshri Yojana Eligibility)
  • वह सभी बालिकाएं जिनका जन्म 1 जून 2016 या फिर इसके पश्चात हुआ है उनको इस योजना का लाभ प्राप्त प्रदान किया जाएगा।
  • लाभार्थी के माता पिता के पास आधार अथवा भामाशाह कार्ड होना अनिवार्य है। यदि प्रथम किस्त के समय लाभार्थी के माता-पिता के पास आधार या भामाशाह कार्ड नहीं होता है तो उस स्थिति में प्रथम किस्त का लाभ संस्थागत प्रसव के आधार पर प्रदान कर दिया जाएगा। परंतु दूसरी किस्त का लाभ लेने से पहले आधार एवं भामाशाह कार्ड की प्रति उपलब्ध करवाना आवश्यक है।
  • केवल राजस्थान के मूल निवासी ही इस योजना का लाभ प्राप्त करने के पात्र हैं। ऐसी सभी प्रसूति जिनका संस्थागत प्रसव राज्य के बाहर हुआ है एवं जननी सुरक्षा योजना का परिलाभ प्राप्त किया है तो बालिका के जीवित जन्म का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना अनिवार्य है। इस स्थिति में इस योजना का लाभ मूल निवासी क्षेत्राधिकार वाले राजकीय चिकित्सा संस्थान से देय होगा। राज्य की बाहर की प्रसूता को इस योजना का लाभ नहीं प्रदान किया जाएगा।
  • प्रथम एवं द्वितीय किस्त का लाभ सभी संस्थागत प्रसव के जन्म लेने वाली बालिकाओं को प्रदान किया जाएगा।
  • तीसरी एवं पश्चातवर्ती किस्तों का लाभ एक परिवार में अधिकतम दो जीवित संस्थानों तक ही सीमित होगा।
  • इसके अलावा प्रथम दो किस्तों के अतिरिक्त अन्य किस्तों का लाभ केवल उन्हीं बालिकाओं को प्रदान किया जाएगा जिनके परिवार में जीवित संस्थानों की संख्या 2 से अधिक नहीं होगी।
  • यदि माता-पिता की ऐसी बालिका की मृत्यु हो जाती है जिसे एक या दो किस्त का लाभ प्राप्त हो चुका है तो ऐसे माता-पिता की कुल जीवित संतानों में से मृत बालिका की संख्या कम हो जाएगी एवं ऐसे माता-पिता को यदि एक बालिका और जन्म लेती है तो वह लाभ की पात्र होगी।
  • प्रथम किस्त का लाभ प्राप्त करने के लिए राजकीय एवं चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा संस्थागत प्रसव हेतु अधिकृत निजी चिकित्सा संस्थानों में प्रस्ताव से जन्म लेना आवश्यक होगा।
  • दूसरी किस्त का लाभ चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मातृ शिशु स्वास्थ्य कार्ड या ममता कार्ड के अनुसार सभी टीका लगवाने के आधार पर प्रदान किया जाएगा।
  • सभी प्रथम किस्त के लाभवंती बालिकाओं को समेकित बाल विकास सेवा के माध्यम से आंगनवाड़ी केंद्र से जोड़ने का प्रयास भी किया जाएगा।
  • योजना की अगली किस्त अभी प्रदान की जाएगी जब लाभार्थी द्वारा पूर्व में अन्य किस्तों की राशि प्राप्त की गई हो।
  • बालिकाओं को इस योजना का लाभ केवल तभी प्रदान किया जाएगा जब वह राज्य सरकार द्वारा संचालित शिक्षण संस्थानों में प्रत्येक चरण में शिक्षारत है।
राजस्थान विद्या संबल योजना

 

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के अंतर्गत आर्थिक सहायता

  • संस्थागत प्रसव के लिए अधिकृत निजी चिकित्सा संस्थानों में प्रसव से जन्म लेने वाली बालिका के माता-पिता को ₹2500 रुपए की राशि राज्य के राजकीय एवं चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रदान की जाएगी। यह राशि जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत प्रदान की जाएगी।
  • बालिका की आयु 1 वर्ष की पूर्ण होने के पश्चात बालिका के नाम से ₹2500 की राशि प्रदान की जाएगी।
  • किसी भी राजकीय विद्यालय की प्रथम कक्षा में प्रवेश लेने पर बालिका को ₹4000 की राशि प्रदान की जाएगी।
  • किसी भी राजकीय विद्यालय की कक्षा 6ठी में प्रवेश लेने पर बालिका को ₹5000 की राशि प्रदान की जाएगी।
  • इसके अलावा बालिका के किसी भी राजकीय विद्यालय में कक्षा 10 में प्रवेश लेने पर बालिका के नाम पर ₹11000 की राशि प्रदान की जाएगी।
  • यदि बालिका 12वीं कक्षा उत्तीर्ण कर लेती है तो इस स्थिति में बालिका को ₹25000 राय की राशि प्रदान की जाएगी।

 

लाभ प्रदान करने का समय लाभ की राशि
जन्म के समय 2500 /- रुपये
1 वर्ष के टीकाकरण पर 2500 /- रुपये
पहली कक्षा में प्रवेश लेने पर 4000 /- रुपये
छठी कक्षा में प्रवेश लेने पर 5000 /- रुपये
दसवीं कक्षा में प्रवेश लेने पर 11000 /- रुपये
12वीं कक्षा में प्रवेश लेने पर 25000 /- रुपये

 

राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना हेतु दस्तावेज (Mukhyamantri Rajshri Yojana Documents)

  • माता पिता का आधार कार्ड
  • माता पिता का भामाशाह कार्ड
  • बालिका का आधार कार्ड
  • बालिका का जन्म प्रमाण पत्र
  • मातृ शिशु स्वास्थ्य कार्ड
  • ममता कार्ड
  • विद्यालय में प्रवेश का प्रमाण पत्र
  • दो संतानों संबंधित स्व घोषणा पत्र
  • 12वीं कक्षा की अंक तालिका
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ आदि

 

राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना में आवेदन की प्रक्रिया (Mukhyamantri Rajshri Yojana Registration Process)

  • इस योजना में ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आपको गवर्नमेंट हॉस्पिटल या फिर जननी सुरक्षा योजना के साथ पंजीकृत हॉस्पिटल में जाना होगा। आप चाहे तो तालुका स्वास्थ्य अधिकारी, कलेक्टर कार्यालय या फिर जिला परिषद अथवा ग्राम पंचायत से भी संपर्क कर सकते हैं।
  • किसी भी जगह संपर्क करने के बाद आपको मुख्यमंत्री राजश्री योजना का एप्लीकेशन फॉर्म प्राप्त कर लेना है।
  • एप्लीकेशन फॉर्म मिल जाने के बाद आपको उसके अंदर जो भी जानकारियां जहां-जहां भी दर्ज करने के लिए कहा जा रहा है, वहां वहां उन सभी जानकारियों को आपको दर्ज कर देने की आवश्यकता होती है।
  • जब आपके द्वारा इतनी प्रक्रिया पूरी कर ली जाती है, तो उसके पश्चात आपको आवश्यक जगह पर सिग्नेचर करने होते हैं या अंगूठे का निशान लगाना होता है।
  • अब सबसे आखरी में आपको जो भी महत्वपूर्ण दस्तावेज है, वह इसी एप्लीकेशन फॉर्म के साथ अटैच कर देना होता है।
  • इतनी प्रक्रिया जब आप पूरी कर लेते हैं, तो आपको इस एप्लीकेशन फॉर्म को संबंधित जगह पर जमा कर देना होता है।
  • इसके बाद आपके एप्लीकेशन फॉर्म और दस्तावेज की जांच की जाती है और सब कुछ सही पाए जाने पर योजना में नाम शामिल कर दिया जाता है।

 

Mukhyamantri Rajshri Yojana से संबंधित पात्रता की जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको जन सूचना पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।

Mukhyamantri Rajshri Yojana 2023

  • होम पेज पर आपको योजनाओं की जानकारी के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको विभाग में वूमेन एंड चाइल्ड डेवलपमेंट डिपार्टमेंट का चयन करना होगा।
  • अब आपको एलिजिबिलिटी स्कीम में चीफ मिनिस्टर राजश्री योजना के विकल्प का चयन करना होगा।
  • जैसे ही आप इन दोनों विकल्प का चयन करेंगे पात्रता से संबंधित जानकारी आपकी स्क्रीन पर खुल कर आ जाएगी।

 

मुख्यमंत्री राजश्री योजना से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण दिशा निर्देश

  • बालिका की आयु 1 वर्ष पूर्ण होने के पश्चात टीकाकरण की सुनिश्चित ऑनलाइन करने के उपरांत चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा लाभ की राशि माता-पिता या फिर अभिभावक के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी।
  • जिसके लिए बालिका की जन्म के समय ही यूनिक आईडी नंबर प्रदान किया जाएगा।
  • पहली एवं दूसरी किस्त प्राप्त करने के लिए आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है।
  • टीकाकरण के प्रमाण के रूप में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मातृ शिशु स्वास्थ्य कार्य या ममता कार्ड अपलोड करने के पश्चात द्वितीय किस्त प्रदान की जाएगी।
  • पहली एवं दूसरी किस्त का लाभ बालिका को वर्तमान में संचालित शुभ लक्ष्मी योजना के अनुसार चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा प्रदान किया जाएगा।
  • बालिका के प्रथम कक्षा में प्रवेश लेने के पश्चात तीसरी किस्त की राशि प्रदान की जाएगी। तीसरी किस्त प्राप्त करने के लिए निर्धारित प्रारूप में ऑनलाइन आवेदन ई मित्र या अटल सेवा केंद्र या अन्य उपलब्ध विकल्पों के माध्यम से किया जाएगा।
  • आवेदन के साथ मातृ शिशु सुरक्षा कार्ड की प्रति, विद्यालय में प्रवेश का प्रमाण पत्र, दो संतानों संबंधित सब घोषणा की प्रति भी अपलोड करने अनिवार्य है।
  • सभी प्राप्त हुई ऑनलाइन आवेदनों की स्वीकृति कार्यक्रम अधिकारी के द्वारा की जाएगी।
  • लाभार्थी के खाते में लाभ की राशि ऑनलाइन ट्रांसफर की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत चौथी, पांचवी, छठी एवं सातवी प्राप्त करने के लिए निर्धारित प्रारूप में आवेदन करना होगा।
  • आवेदन के साथ विद्यालय में प्रवेश के प्रमाण पत्र की प्रति भी अपलोड करना अनिवार्य होगा।
  • इसके अलावा 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के पश्चात अंत तालिका की प्रति भी आवेदन के साथ अपलोड करने अनिवार्य होगी।
  • मुख्यमंत्री राजश्री योजना का प्रशासनिक विभाग महिला एवं बाल विकास विभाग होगा।
  • इस योजना की समीक्षा संबंधी जिला कलेक्टर के द्वारा प्रत्येक माह में एक बार की जाएगी।
  • इस योजना के सफल संचालन के लिए राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर दिशा निर्देश जारी किए जाएंगे एवं दिशानिर्देशों में संशोधन किया जाएगा।

 

राजश्री योजना राजस्थान हेल्पलाइन नंबर (Mukhyamantri Rajshri Yojana Helpline Number)

हमने इस आर्टिकल के द्वारा आपको राजश्री योजना राजस्थान के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध करवा दी है। अब नीचे हम आपको योजना का हेल्पलाइन नंबर भी दे रहे हैं, ताकि आप योजना के बारे में पूछताछ कर सके या फिर अपनी शिकायत को दर्ज करवा सकें। याद रखें कि हेल्पलाइन नंबर पर आप सोमवार से लेकर के शनिवार सुबह 10:00 बजे से लेकर के शाम को 6:00 बजे तक फोन कोल लगा सकते हैं। रविवार को अवकाश रहता है। इसलिए आपको अवकाश के दिन फोन नहीं करना चाहिए।

हेल्पलाइन नंबर – 18001806127

2 thoughts on “Mukhyamantri Rajshri Yojana 2024 : बेटियों को 50000 रुपये का फायदा, ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म, पात्रता व दिशा निर्देश”

  1. Pingback: Mukhyamantri Ladli Behna Awas Yojana 2023 : एमपी सरकार देगी महिलाओं को फ्री में घर - Sarkari Yojana
  2. Pingback: मुख्यमंत्री बालक बालिका प्रोत्साहन योजना बिहार 2023, ऑनलाइन अप्लाई (Mukhyamantri Balak Balika Protsahan Yojana) - Sarkari Yojana

Leave a Comment

राजस्थान मुख्यमंत्री विशेष योग्यजन सम्मान पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कैसे करें बिहार सामूहिक नलकूप योजना : खेत में सामूहिक नलकूप लगवाने पर भारी सब्सिडी देगी बिहार सरकार, ऐसे करें आवेदन Post Office RD Scheme 2024: गजब की है यह स्कीम, हर महीने निवेश पर मिलेगा शानदार रिटर्न गाय गोठा अनुदान महाराष्ट्र 2024: Gay Gotha Yojana Form, लाभ एवं पात्रता महिलाओं के लिए गारंटी रहित 25 लाख तक का ऋण, जानिए क्या है आवेदन प्रक्रिया